जिले में ईवीएम को लेकर आक्रोश

0
3

 देवरी -तहसील राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार गुट) ने ईवीएम के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया है.नागरिक स्वयं ही आंदोलन में भाग लेते दिखे. मोर्चे का नेतृत्व राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के तहसील अध्यक्ष विलास चाकाटे, तहसील महिला अध्यक्ष आरती जांगले, भारत मुक्ति मोर्चा की वंदना डोंगरे ने किया. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार गुट) व भारत मुक्ति मोर्चा की ओर से देवरी उपविभागीय कार्यालय पर ईवीएम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया और उपविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर आने वाले चुनाव में ईवीएम का उपयोग नहीं करने की मांग की गई.
जिलेवार विधानसभा चुनाव में वोटों की गिनती में अंतर होने के कारण आगामी लोकसभा-विधानसभा चुनाव ईवीएम की जगह मतपत्रों पर कराने की मांग को लेकर एनसीपी शरदचंद्र पवार पार्टी की ओर से मोर्चा निकाला गया.मोर्चा रानी दुर्गावती चौक पर सभा में तब्दील हो गया. इस अवसर पर देवरी तहसील कांग्रेस पार्टी के तहसील अध्यक्ष संदीप भाटिया ने ईवीएम हटाओ-देश बचाओ आंदोलन को पार्टी का समर्थन दिया. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष सौरभ रोकड़े, जिला महिला अध्यक्ष मंजू डोंगरावर, तहसील महिला अध्यक्ष आरती जांगले, भारत मुक्ति मोर्चा के वंदना डोंगरे, गोंदिया जिला महासचिव तिरथ येटरे, बालु वंजारी ने उपस्थितों को संबोधित किया. चुनाव प्रक्रिया में ईवीएम एक महत्वपूर्ण मशीन है. लेकिन ईवीएम अब विवादों के घेरे में हैं क्योंकि कई राजनीतिक दलों ने ईवीएम की कार्यप्रणाली पर आपत्ति जताई है और उन पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. देवरी में भी एनसीपी ने ईवीएम हटाने और देश की सुरक्षा की मांग को लेकर प्रदर्शन किया और उपविभागीय अधिकारी कार्यालय तक मोर्चा निकाला. उपविभागीय अधिकारी को सख्त चेतावनी दी गई कि आगामी चुनाव में ईवीएम का प्रयोग न करें, केवल मतपत्रों का प्रयोग करें. प्रतिनिधि मंडल में जिलाध्यक्ष सौरभ रोकडे, जिला महिला अध्यक्ष मंजू डोंगरवार, जिला उपाध्यक्ष बालु वंजारी, दिलीप जुडा, जिला महासचिव तिरथ येटरे, प्रतीक लांजेवार, गोंदिया विधानसभा अध्यक्ष शेखर चामट, आमगांव तहसील अध्यक्ष भुपेश शेंडे, बिसराम सलामे, महेंद्र निकोडे, विलास चाकाटे, आरती जांगले, देवेंद्र शहारे, रुपा गिरेपुंजे, अरुण आचले, विनोद रोकडे, मनोहर राऊत, संदेश मेश्राम, सतीश आचले, योगराज शिवनकर, बैजुराम कालसर्पे, काशिराम शहारे, राजकुमार बंसोड, प्रशांत देसाई, सीता मेश्राम, सुलोचना वालदे, दीक्षा वालदे, देवांगना वालदे, सुमत्रा धानगुण आदि उपस्थित थे.