ताइक्वांडो खेल लड़कियों के स्व-संरक्षण के लिए उपयुक्त- पुलिस उपअधीक्षक बनकर

0
9

ग्रीष्मकालीन ताइक्वांडो प्रशिक्षण शिविर का समापन
गोंदिया: डीजीएम ताइक्वांडो स्पोर्ट्स एजुकेशन एंड यूथ अकादमी एवं गोंदिया जिला ताइक्वांडो एसोसिएशनके संयुक्त विद्यमान से दिनांक 1 से 10 मई इस दरम्यान औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था फूलचूलपेठ, गोंदिया में ग्रीष्मकालीन ताइक्वांडो प्रशिक्षण शिविर का समापन 13 मई को किया गया।शिविर समापन कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि के तौर पर पुलिस उप-अधीक्षक रोहिणी बनकर प्रमुख रूप से उपस्थित थे। उसी प्रकार जिला व्यवसाय शिक्षण अधिकारी हेमंत आवारे, उपकार्यकारी अभियंता शिखा पीपलेवर, उपप्राचार्य अविनाश केने,गोंदिया जिला ताइक्वांडो असोसिएशन के सचिव तथा मुख्यप्रशिक्षक दुलीचंद मेश्राम इत्यादि मान्यवर प्रमुख रूप से उपस्थित थे।उपस्थित सभी खिलाड़ी एवं पालक वर्ग को पुलिस उप-अधीक्षक रोहिणी बनकर अपने संबोधन में कहा कि ताइक्वांडो खेल लड़कियों के स्वसंरक्षण के लिए उपयुक्त है। एवं सरकारी- नीम्म सरकारी नौकरी भर्ती प्रक्रिया में इस खेल का आरक्षण में समावेश होने के कारण इसका फायदा गोंदिया जिले के खिलाड़ीयोने लेना चाइए। एवं गोंदिया जिले से राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी निर्माण हो ऐसा संबोधन किया। कार्यक्रम में ताइक्वांडो खिलाड़ियों ने उपस्थित सभी के सामने ताइक्वांडो प्रात्यक्षित एवं ताइक्वांडो फाइट करके नए खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया गया। इस प्रशिक्षण शिविर में 100 से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया। कार्यक्रम का प्रस्ताविक सचिव दुलीचंद मेश्राम इन्होंने किया संचालन नरेश बोहरे इन्होंने किया एवं आभार प्रदर्शन उप प्राचार्य अविनाश केने इन्होंने किया।इस प्रशिक्षण शिविर में सह प्रशिक्षक कूंजन डोये, प्राची मौदेकर, कुसुम पटले, पूर्वा भंडारकर, आंचल राऊत, प्रथम भंडारकर,शिवम सोलंके, वैदेही शहारे, माधुरी थेर, शिमरान बनोटे, लावण्या पुसाम इन्होंने कार्यक्रम यशस्वी करने में सह कार्य किया।