गोंदिया विमानतल मे भारत मौसम विज्ञान विभाग के 150 वर्षों का समारोह संपन्न

0
15

गोंदिया,17 जनवरीः- भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी),  मौसम विज्ञान में 150 वर्षों की सेवा को पूर्ण करते हुए  गर्व महसूस कर रहा है। 15 जनवरी सन 1875  में स्थापना के साथ भारत मौसम विज्ञान विभाग राष्ट्र को सटीक मौसम पूर्वानुमान, चेतावनियां, और जलवायु जानकारी प्रदान करता आया है। इसी आयोजन के अंतर्गत दिनांक 15 जनवरी 2024  को वैमानिकी मौसम स्टेशन ,बिरसी विमानतल गोंदिया द्वारा कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया|

कार्यक्रम के उदघाटन की लाइव स्ट्रीमिंग वैमानिकी मौसम स्टेशन ,बिरसी विमानतल गोंदिया में की गयी, जिसमे देश उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के द्वारा, मौसम मुख्यालय नई दिल्ली में कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया एवं पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री किरन रिजीजू द्वारा उद्बोधन दिया गया| वैमानिकी मौसम स्टेशन ,बिरसी विमानतल गोंदिया में  बिरसी विमानतल गोंदिया के विमानपत्तन निदेशक शफीक शाह,विद्युत अनुभाग बिरसी विमानतल के विभागध्यक्ष अनिल कुमार,इंडिगो एयरलाईंस के सुरक्षा अधिकारी आदेश यादव,मुख्य सुरक्षा अधिकारी बिरसी विमानतल श्री अनंदु एवं बिरसी विमानतल के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी गणों के साथ NFTI एवं IGRUA फ्लाइंग कंपनी के प्रशिणार्थी कैडेट्स उपस्थित थे।

वैमानिकी मौसम स्टेशन ,बिरसी विमानतल गोंदिया द्वारा आयोजित सेमिनार का  अवलोकन   कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा किया गया एवं विभिन्न उपकरणों की जानकारी प्राप्त की गई |विमानन  संबधित मौसम पूर्वानुमान एवं चेतावनी के लिए उपयोग में आने वाले विभिन्न उपकरणों की कार्यप्रणाली एवं मौसम कार्यालय द्वारा बिरसी विमानतल से मौसम सम्बन्धी जो सेवाए प्रदान की जा रही है उसके बारे में अतिथियों को  अवगत कराया गया।

इस शुभ अवसर पर उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़; पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री किरन रिजीजू; एम. रविचंद्रन, सचिव-पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय औरडॉ. एम. महापात्र, महानिदेशक, भारत मौसम विज्ञान विभाग, नई दिल्ली द्वारा संयुक्त रूप से जनसाधारण एवं कृषक भाइयो के लिए‘मौसम’ मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च किया गया, जो की 12 भारतीय स्थानीय भाषाओ में अगले 05 दिन के मौसम एवं जलवायु सेवाये किसी भी स्थान के लिए उपलब्ध करवाएगा |

इसी क्रम में वैमानिकी मौसम स्टेशन ,बिरसी विमानतल गोंदिया से प्रभारी अधिकारी अनित कुमार राय,मौसम विज्ञानी A नेआगंतुकों  को मौसम सम्बधी आधुनिक तकनीकों के बारे मे बताया और मौसम सम्बधी मोबाईल एप जैसे मौसम एप,दामिनी अप और मेघदूत एप के बारे मे जानकारी दी । साथ ही श्रीकांत खोब्रागडे  , वैज्ञानिक सहायक द्वारा मंच सञ्चालन एवं विश्वरत्न करमरकर वैज्ञानिक सहायक द्वारा  मौसम वेधशाला मे लगे उपकरणों के बारे मे अतिथियों को जानकारी दी ।