केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा- स्कूलों में नए सत्र से योग होगा अनिवार्य

0
11
वाढदिवसाच्या शुभेच्छा

रायपुर. देशभर के स्कूलों में नए सत्र से योग की शिक्षा दी जाएगी। ये पांचवीं और उससे आगे की कक्षाओं में अनिवार्य होगा। इसके पहले 21 जून को देशभर में योग पर कार्यक्रम होगा।
केंद्रीय आयुष और स्वास्थ्य मंत्रालय के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद नाइक ने दैनिक भास्कर से खास बातचीत की। उन्होंने कहा कि पांचवीं और उसके बाद सारी कक्षाओं में योग को अनिवार्य किया जाएगा। ताकि ये बच्चों के जीवन में शामिल हो सके।
हाल ही में संयुक्त राष्ट्र संघ में योग को 177 देशों ने समर्थन दिया था। उसके बाद से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये फैसला लिया है। नाइक ने यह भी कहा कि अब देशभर के प्राथमिक केंद्रों में आयुष चिकित्सा पद्धतियां लागू होंगी। छत्तीसगढ़ में भी विस्तार होगा। गांवों में डॉक्टर कम हैं। और एलोपैथी का इलाज सब नहीं करा पाते।
इस कारण इसे बढ़ावा देंगे। ये कम खर्चीली हैं और साइड इफैक्ट भी नहीं है। इसके लिए अलग से बजट की मांग की गई है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में 20 नए मेडिकल कालेज खोलने की योजना है। इसमें सभी तरह के एलोपैथिक, आयुष, आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज शामिल हैं। इनमें 60 से 100 सीटों तक का प्रावधान है। बजट मिलते ही प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
छत्तीसगढ़ बनेगा देसी दवाओं का हब
नाइक ने कहा कि छत्तीसगढ़ को देसी दवाओं का हब बनाया जाएगा। यहां के जंगलों में जड़ी-बूटियों और औषधीय पौधों का भंडार है। इसलिए यहां मेडिसिन प्रोडक्शन हब बनाने की तैयारी है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से बात हुई है। वे राजी हैं। वे दवा कंपनियों को जगह उपलब्ध कराएंगे। दवा फैक्ट्रियों के साथ पौधों के संरक्षण का काम भी होगा। नए कोर्स के साथ ट्रेनिंग के भी इंतजाम होंगे।